Gyanvapi Mandir: ASI की रिपोर्ट आई सामने, मंदिर के खंभों पर बनी मस्जिद

वाराणसी: ज्ञानवापी मंदिर को लेकर भारतीय पुरुतत्व विभाग की सर्वे रिपोर्ट सामने आ गई है। जिसके तहत हिंदू मंदिरों को तोड़कर और उसके जो अवशेष बचे उसी के ऊपर मौजूदा मस्जिद का निर्माण किया गाया है। रिपोर्ट को सार्वजनिक करने के अदालत के आदेश पश्चात हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने यह बात कही।

रिपोर्ट को सार्वजनिक करते हुए विष्णु शंकर जैन ने कहा,  “ASI ने कहा है कि मौजूदा ढांचे के निर्माण से पहले वहां एक बड़ा हिंदू मंदिर मौजूद था। यह ASI का निर्णायक निष्कर्ष है…”

उन्होंने आगे बताया कि, “ASI ने कहा है कि वहां पर 34 शिलालेख है जहां पर पहले से मौजूद हिंदू मंदिर  के थे। जो पहले हिंदू मंदिर था उसके शिलालेख को पुन: उपयोग कर ये मस्जिद बनाया गया। इनमें देवनागरी, ग्रंथ, तेलुगु और कन्नड़ लिपियों में शिलालेख मिले हैं।…. इन शिलालेखों में जनार्दन, रुद्र और उमेश्वर जैसे देवताओं के तीन नाम मिलते हैं।”

विष्णु शंकर ने कहा, “ASI ने कहा है कि मस्जिद में जो खंभे लगे हुए हैं वो हिंदू मंदिर के थे जिन्हें पुन: उपयोग किया गया। मतलब हिंदू मंदिर के खंभे को मॉडिफाई किया गया।” उन्होंने आगे कहा, “ASI की ओर से कुल 839 पन्नों की रिपोर्ट दाखिल की गई है।”

ASI रिपोर्ट के एक हिस्से में कहा गया है, “वैज्ञानिक अध्ययन/सर्वेक्षण में वास्तुशिल्प अवशेषों, कलाकृतियों शिलालेखों, कला और मूर्तियों का अध्ययन किया गया, यह कहा जा सकता है कि मौजूदा संरचना के निर्माण से पहले वहां एक हिंदू मंदिर मौजूद था।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *